इन 10 शेयरों ने 5 साल में 10 लाख रुपये को बना दिया 1.7 करोड़

शेयर बाजार में कई ऐसे शेयर है, जिन्होंने निवेशकों को बहुत तेजी से मुनाफा कमाकर दिया है. आज हम आपको ऐसे ही 10 स्टॉक के बारे में बताने वाले हैं, जिनमें 5 साल पहले लगाए गए एक-एक लाख रुपये यानी कुल 10 लाख रुपये आज बढ़कर 1.7 करोड़ रुपये हो गए हैं.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, गुजरात की अडानी ट्रांसमिशन साल 2016 से 2021 के बीच सबसे बड़ी वेल्थ क्रिएटर बनकर उभरी है. कंपनी ने अपने निवेशकों की संपत्ति में सालाना 93 फीसदी की दर से बढ़ोतरी की है.

अडानी ट्रांसमिशन, दीपक नाइट्रेट, अडानी एंटरप्राइजेज, टनाला प्लेटफॉर्म, रुचि सोया, अलकाइल अमाइन्स, वैभव ग्लोबल, APL अपोलो ट्यूब्स, P&G हेल्थ और एस्कॉर्ट्स ।

अडानी ट्रांसमिशन के बाद दीपक नाइट्रेट ने निवेशकों की संपत्ति में सालाना 90 फीसदी का इजाफा किया है.

इसके बाद बीते 5 साल में अडानी इंटरप्राइजेज ने 86 फीसदी, टनाला प्लेटफॉर्म ने 85 फीसदी, रुचि सोया ने 81 फीसदी, अलकाइल अमाइन्स ने 79 फीसदी, वैभव ग्लोबल ने 64 फीसदी, एपीएल अपोलो ट्यूब्स ने 60 फीसदी, पीएंडजी हेल्थ ने 57 फीसदी और एस्कॉर्ट्स ने 56 फीसदी की सालाना दर से निवेशकों की संपत्ति बढ़ाई है.

मोटी कमाई कराने वाले इन 10 शेयरों में 7 शेयर 5 साल पहले 20 या उससे कम की P/E पर ट्रेड कर रहे थे.

इससे पता चलता है कि अगर आपने अच्छे क्वालिटी स्टॉक की किफायती दर पर पहचान कर ली तो यह संपत्ति बढ़ाने का सबसे बड़ा साधन बन सकता है.

कुल मिलाकर भारत में वेल्थ क्रिएशन की स्पीड इससे तेज कभी नहीं रही है. पिछले 5 साल में निवेशकों और एंटरप्रेन्‍योर्स ने इक्विटी के जरिये 71 लाख करोड़ रुपये की संपत्ति बनाई है, जो अब तक का सबसे अधिक है.

अधिक जानकारी के लिए हमारे नवीनतम समाचार देखें